मकड़ी खुद अपने जाल में क्यों नहीं फंसती ? Spider Facts

मकड़ी………! मकड़ी नाम सुनते ही आपके दिमाग में सबसे पहले क्या आता है ? एक रिसर्च में पाया गया कि 60 प्रतिशत लोगों के दिमाग में मकड़ी का नाम सुनते ही मकड़जाल का ख्याल आता है, जिसमें कभी वह खुद उलझा होता है.

आपके दिमाग में मकड़ी का नाम सुन कर क्या विचार आया नीचे कमेंट कर के बता सकते हैं, या मकड़ी से सम्बंधित कोई interesting वाकया जो आपके साथ घटित हुआ हो हमारे साथ साझा कर सकते हैं.

हम सभी जानते हैं कि मकड़ी अपने रहने और शिकार करने के लिए जाले का निर्माण करती है.मकड़जाल में कोई भी कीट-पतंगा फंसने के बाद उसमें ही उलझ कर रह जाता है और फिर लाख कोशिशों के बावजूद भी बाहर नहीं निकल पाता है.

क्या आपके मन में कभी यह विचार आया हैं कि मकड़ी खुद अपने जाल में क्यों नहीं फंसती Why don’t spider caught in their own webs ?

आज हम इस सवाल का जवाब जानेंगे साथ ही मकड़ी से सम्बंधित कुछ रोचक तथ्यों पर भी प्रकाश डालेंगे.

मकड़ी खुद क्यों अपने जाल में नहीं फंसती Why don’t spider caught in their own webs in Hindi ?

मकड़ी अपने जाल के निर्माण के लिए सर्कुलर पैटर्न में घुमती रहती  है, और एक विशेष प्रकार का गोंद छोड़ती है. यह गोंद जाल में आये कीट पतंगों को मजबूती से चिपका लेता है.और काफी उचल-कूद के बाद भी  वे जाल से  बाहर नहीं निकल पातें.

इसके बाद मकड़ी दौड़ कर उनके ऊपर अपने विष को inject कर देती है, और देखते ही देखते कुछ देर में उनका छट-पटाना बंद  हो जाता है.

अब आप समझ ही गए होंगे की क्या कारण है जिससे कीट-पतंगे जाल में फंसने के बाद बाहर नहीं निकल पातें हैं.

अब आपके मन में यह सवाल उठा होगा कि मकड़ी के जाले का गोंद दुसरे जीवों को चिपका सकता है तो खुद मकड़ी उस गोंद से कैसे बची रह सकती है?

बिल्कुल, अब मैं आपके इसी सवाल का जवाब देने वाला हूँ-

मकड़ी एक बहुत ही चालाक किस्म का प्राणी होता है.वह अपने जाले का निर्माण एक विशेष रणनीति के तहत करता है.जिसमें  सावधानी पूर्वक जाले के कुछ धागों पर गोंद का लेपन नहीं करता और बाद में सिर्फ ऐसे ही धागों पर घुमता रहता  है.

ऐसा भी माना जाता है कि मकड़ी के पैरों में तेल कि कोटिंग होती है जो उसे जाले में फंसने से बचाता है.

मैं आशा करता हूँ कि अब आप मकड़ी के खुद जाल में नहीं फंसने का कारण जान चुके होंगे.

 

मकड़ी के बारे में कुछ रोचक तथ्य Interesting Facts About Spiders In Hindi

मकड़ी रोचक तथ्य

 

1.नवम्बर 2015 तक मकड़ी कि 45700+ प्रजातियां और 113 फैमिली कि पहचान किया जा चूका है.

2. मकड़ी कि कुछ प्रजाति  UV लाइट को देख सकती है जिसे मनुष्य नहीं देख सकता.

3. मकड़ी के शरीर में एक भी दन्त नहीं पाया जाता.

4. मकड़ी के खून में कापर पाया जाता है जिससे खून का रंग नीला होता है.

5. Bagheera Kipling एक मात्र शाकाहारी मकड़ी कि प्रजाति है.

6. मकड़ी का guts काफी पतला होता जिसके कारण वह किसी भी ठोस पदार्थ को ग्रहण नहीं कर सकता.

7. मादा Black Widow Spider सम्भोग करने के बाद अपने साथी को खा जाती है.

8. Jumping Spider अपने लम्बाई से 50 गुना तक  ऊपर तक कूद सकता है.

9. मकड़ी एक बार में 300 से भी ज्यादा अंडे देती है.

10. मकड़ी के एक अंडे में मनुष्य से 4 गुना ज्यादा डीएनए पाया जाता है.

11. मकड़ी के जाल नें विटामिन K पाया जाता है.

12. मकड़ी को 48 घुटने होते हैं.

13. मकड़ी का जाला दुनिया के मजबूत वस्तुओं में से एक है.इसका अंदाजा हम इस बात से लगा सकते हैं कि एक समान वजन का spider web, स्टील से 5 गुना ज्यादा मतबूत होता है.

15.  सबसे छोटी मकड़ी Patu Marplesi है.इसका आकर पेन्सिल के नोक के बराबर होता है.अब आप खुद ही इसकी लम्बाई का अंदाजा लगा सकते हैं.

 

आपको Spider Facts हिंदी में पढ़ कर कैसा लगा हमें जरुर बताएं.अगर आपके पास भी मकड़ी से सम्बंधित कोई facts हो तो नीचे कमेंट कर के बता सकते हैं.

अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं.

धन्यवाद.

9 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *