Monday, 30 July 2018

पक्षियों के बारे में हैरान कर देने वाली रोचक तथ्य.Facts About Birds In Hindi

सुबह के समय पक्षियों का कलरव बहुत ही मनमोहक लगता है.इनकी छटा देख कर अक्सर मनुष्य मंत्र-मुग्ध हो जाया करते है. इन्ही पक्षियों में कुछ ऐसे पक्षी होते हैं जिनकी चोंच बंदूक की गोली से भी ज्यादा ताकतवर होती है तो कुछ में पीछे की तरफ चलने का हुनर होता है.

आज हम पक्षियों के बारे में कुछ ऐसे ही रोचक तथ्य के बारे में बात करने वाले हैं.तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ियेगा आपको बहुत सी नयी जानकारी जानने को मिलेगी.


Pakshi Ke Bare Me Rochak Facts
Birds Facts

पक्षियों के बारे में हैरान कर देने वाले 14 रोचक तथ्य.Facts About Birds In Hindi


  1. विपरीत दिशा में भी कुशलता पूर्वक उड़ने का हूनर सिर्फ हमिंग बर्ड नामक पक्षी के पास है.
  2. कबूतर की ज्ञात सभी प्रजातियों में गुलाबी कबूतर सबसे दुर्लभ माना जाता है.
  3. आपको जान कर ख़ुशी होगी, दुनिया की लगभग 8650 प्रजातियों में से 1230 प्रजातियाँ अकेले भारत में पायी जाती हैं.
  4. प्रत्येक साल लगभग 1000 पक्षियों की मौत शीशे से टकराने से हो जाती है.
  5. न्यूजीलैंड की बहुत से पक्षी नेत्रहीन हैं.
  6. बाज की चोंच बंदूक की गोली से भी ज्यादा मजबूत होती है.
  7. शुतुरमुर्ग की पैरों में इतना जान होता है कि लात मार कर शेर को भी घायल कर सकता है.
  8.  शुतुरमुर्ग दुनिया का सबसे तेज़ रफ़्तार (72KM/H) से दौड़ाने वाला पक्षी है.
  9. बत्तख के पैरों में तंत्र वाहिनियाँ नहीं होती हैं जिसके कारण इन्हें पानी में ठण्ड महसूस नहीं होता.
  10. गिध्द सबसे ज्यादा ऊँचाई (करीब 11200 मीटर) तक उड़ने वाला पक्षी है.
  11. कसोवरी पांच फीट ऊँचा ऑस्ट्रेलियाई पक्षी है जो अपनी दुलत्ती से आदमी तक का जान ले सकता है.
  12. पक्षियों में मनुष्य की अपेक्षा स्वाद ग्रंथियां बहुत कम पायी जाती हैं जिसकी वजह से इन्हें किसी भी चीज का स्वाद सही से महसूस नहीं होता.
  13. पूरी दुनिया में पक्षियों की जनसंख्या करीब 1 खरब है जो दिन प्रतिदिन घटती जा रही है.
  14. आपको जान कर हैरानी होगी कि उल्लू को एक भी दांत नहीं होता.

कुछ और ज्ञानवर्धक रोचक तथ्य जो आपको पढ़ना चाहिये.




तो दोस्तों आपको पक्षियों के बारे में रोचक तथ्य जानकार कैसा लगा हमें comment कर के बता सकते है.अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें rochakfacts@gmail.com पर मेल कर सकते हैं.

धन्यवाद.


0 comments: